देश मध्य प्रदेश सिवनी

विधिक जागरूकता से महिलाओं का सशक्तिकरण’’ विषय पर विशेष महिला साक्षरता शिविर का हुआ आयोजन

सिवनी। राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण नई दिल्ली के तत्वाधान में राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर के निर्देशानुसार दिनांक 02 अक्टूबर से 14 नवम्बर 2021 तक ‘‘आजादी का अमृत महोत्सव’’ अंतर्गत सिवनी जिले में जन जागरूकता अभियान चलाया जा रहा हैं। जिसके अंतर्गत दिनांक 12.11.021 को डी0पी0 चतुर्वेदी विधि महाविद्यालय सिवनी में विधिक सेवा प्राधिकरण की गतिविधियों एवं अन्य विषय में परिचर्चा तथा शासकीय कन्या महाविद्यालय सिवनी में राष्ट्रीय महिला आयोग के समन्वय से ‘‘विधिक जागरूकता से महिलाओं का सशक्तिकरण’’ विषय पर विशेष महिला साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया।

   श्रीमान् सी.के. बारपेटे, जिला एवं अपर सत्र न्यायाधीश/सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सिवनी द्वारा डी0पी0 चतुर्वेदी विधि महाविद्यालय सिवनी में विधिक सेवा प्राधिकरण की गतिविधियों एवं अन्य विषय पर विस्तारपूर्वक जानकारी प्रदान की । उनके द्वारा अपने उद्बोधन में बताया कि वर्ष 1987 में विधिक सेवा प्राधिकरण अधिनियम, 1987 अधिनियमित किया गया था। यह 9 नवम्बर, 1995 को लागू हुआ। विधिक सेवा प्राधिकरण किस प्रकार कार्य करता है उनके बारे में विस्तृत जानकारी दी गई कि समाज के कमजोर वर्ग को   निःशुल्क और सक्षम कानूनी सेवाएं प्रदान करना और यह सुनिश्चित करना कि आर्थिक या अन्य अक्षमताओं के कारण कोई भी नागरिक न्याय हासिल करने से वंचित न रहे। विवादों के सौहार्दपूर्ण निपटारे के लिए लोक अदालतों का आयोजन करना, समाज के कमजोर और हाशिये के वर्गो के अधिकारों के बारे में विधिक जागरूकता पैदा करना, सामाजिक न्याय मुकद्मों आदि का उपक्रम करना।

सामरिक और निवारण विधिक सेवा कार्यक्रमों के माध्यम से नालसा की योजनाओं और नीतियों को लागू करना। विधिक सेवा प्राधिकरण अधिनियम, 1987 की धारा में मुफ्त विधिक सहायता के हककार व्यक्तियों को श्रेणियों का विवरण दिया गया है। इन श्रेणियों में महिलाएं, बच्चे, अनुसूचित जाति/जनजाति जो व्यक्ति के हिरासत में हो, औद्योगिक कामगार, आपदा के शिकार और मानसिक बीमारी से पीड़ित, दिव्यांग व्यक्ति शामिल है।

  इसी तिथि को राष्ट्रीय महिला आयोग के समन्वय से महिलाओं के अधिकारों एवं सुरक्षा हेतु तथा उन्हें विधिक रूप से जागरूक करने के उद्देश्य से विधिक सेवा प्राधिकरण सिवनी द्वारा शासकीय कन्या महाविद्यालय सिवनी में ‘‘विधिक जागरूकता से महिलाओं का सशक्तिकरण’’ विषय पर विशेष महिला साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया। शिविर का शुभारंभ जिला विधिक सहायता अधिकारी, श्रीमती दीपिका ठाकुर द्वारा दीप प्रज्जविल कर किया गया। उक्त कार्यक्रम में जिला विधिक सहायता अधिकारी, श्रीमती दीपिका ठाकुर द्वारा उपस्थित छात्राओं को संबोधित करते हुये सर्वप्रथम इस जागरूकता कार्यक्रम को आयोजित किये जाने के उद्देश्य से उपस्थित महिलाओं को अवगत कराया गया तथा आयोजित शिविर महिलाओं के सर्वांगीण विकास तथा उनके अधिकारों के संबंध में जागरूक किये जाने हेतु आयोजित किया गया है। स्त्री एवं पुरूष ईश्वर की रचनायें हैं उनमें समस्त प्रकार की समानताओं को लेकर कोई मतभेद नहीं होना चाहिये। जब तक महिलायें शिक्षित नहीं होगी, वे अपने अधिकारों के बारे में जागरूक नहीं होगी, तब तक उनका सर्वांगीण विकास नहीं हो सकेगा। ग्रामीण क्षेत्रों में यह सुनने को मिलता है कि बालिकाओं को पढ़ाना नहीं चाहते, परंतु निःसंदेह महिलायें एवं बालिकायें जब तक शिक्षित नहीं होगी, तब तक उन्हें अपने अधिकारों के बारे में जानकारी नहीं होगी। शिक्षित होने से उनका बौद्धिक स्तर ठीक रहेगा। जिला विधिक सहायता अधिकारी द्वारा यह बतलाया गया कि महिलाओं के अधिकारों के संबंध में कई कानून बने हैं जिसमें जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सिवनी द्वारा संचालित निःशुल्क एवं सक्षम विधिक सेवा योजना एवं मध्यस्थता योजना संचालित की जाती है तथा आमजन को निःशुल्क विधिक सहायता एवं सलाह प्रदान करने का कार्य किया जाता है साथ ही दिनांक 14 दिसंबर 2021 को होने वाली नेशनल लोक अदालत के संबंध में विस्तारपूर्वक जानकारी दी गई।

उक्त शिविर में रिसोर्स पर्सन सहा. प्राध्यापिका श्रीमती श्वेता आम्रंवशी शासकीय विधि महाविद्यालय सिवनी द्वारा बताया गया कि प्रत्येक महिलाओं को कानून के माध्यम से अनेक अधिकार प्रदान किये गये है, जिसके संबंध में उन्हें जानकारी होना अत्यंत आवश्यक है जिससे वे उन अधिकारों का भली भांति उपयोग कर सके। उनके द्वारा घरेलू हिंसाओं से महिलाओं का संरक्षण अधिनियम भा0द0सं0 की धारा 304बी, दहेज मृत्यु, धारा 498 ए दहेज कू्ररता, धारा 354 के अंतर्गत महिलाओं के विरूद्ध घटित होने वाले अपराधों और उनके संबंध किये गये सजा के प्रावधानों, छेड़छाड़, भूर्ण हत्या, गर्भ का चिकित्सकीय समापन, बलात्कार, बंदी महिला के अधिकार, पाक्सो एक्ट आदि के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दी गई। उक्त शिविर में लगभग 150 छात्राएं उपस्थित हुई।

अमित ढ़केता, परिवीक्षा अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग सिवनी द्वारा घरेलू हिंसा एवं महिलाओं के लिये संचालित किये जाने वाले वन स्टाप सेंटर के विषय मंे विस्तारपूर्वक जानकारी प्रदान की । अपने उद्बोधन में उन्होंने बताया कि घरेलू हिंसा क्या होती है कितने प्रकार की हिंसा इसके अंतर्गत सम्मिलित है व घरेलू हिंसा होने पर इसकी शिकायत कहां की जा सकती है। साथ ही यदि किसी महिला को घर से बेघर कर दिया गया है तो उन्हें वन स्टॉप सेंटर में रूकने संबंधी व्यवस्थाओं, खाने पीने चिकित्सा सुविधाएं व वन स्टॉप सेंटर में ही एफ0आई0आर0 करवाने की सुविधा के संबंध में जानकारी दी गई।  तथा महिला हेल्पलाईन नंबर 181 के संबंध में भी जानकारी दी गई।

साथ ही बाल कल्याण समिति से श्री सुनील कुमार साहू, काउंसलर द्वारा उपस्थित ग्रामवासियों को जानकारी प्रदान करते हुये कहा कि आजकल जनसामान्य के साथ होने वाली साइबर ठगी एवं साइबर क्राइम के संबंध में जानकारी देते हुए कहा कि जब आप इंटरनेट का उपयोग करते हैं, तो आपको अपरिचित लोगों, अज्ञात सर्वर आदि का हर दिन सामना करना ही पड़ता हैं। यदि आप सतर्क नहीं हैं, तो आप आसानी से इसका षिकार बन सकते हैं। आर्थिक, सामाजिक, मानसिक और शारीरिक शोषण से बचने का सर्वोत्तम उपाए हैं-सुरक्षित और सतर्क रहना । यदि आपके साथ किसी भी प्रकार की साइबर घटना घटित होती हैं तो आप अपने से संबंधित साइबर अपराधों की षिकायत नजदीकी पुलिस स्टेषनों में कर सकते हैं। जिन शहरों में साइबर पुलिस स्टेषन हैं, वहां आप उन थानों में जाकर भी अपनी रिपोर्ट दर्ज करा सकते हैं। इन थानों में आपके शहर के किसी भी क्षेत्र में हुई साइबर अपराध की रिपोर्ट दर्ज कराई जा सकती हैं तथा साथ ही पाक्सो एक्ट के संबंध में विस्तारपूर्वक जानकारी दी। ग्राम पंचायत सचिव के माध्यम से ग्राम सांगपुर, बरेली, थांवरी में डोर टू डोर कार्यक्रम में पंपलेट्स वितरण द्वारा प्रचार प्रसार व सिवनी शहर में 20 न्यूजपेपर हॉकर्स के माध्यम से न्यूज पेपर में पंपलेट्स संलग्न कर वितरण किया गया व स्थानीय लोगों को प्राधिकरण की योजनाओं के संबंध में जागरूक करने का कार्य किया गया।

— — — — — — — — — — — — — — — — — — — — —  ताजासमाचार ग्रुप से जुड़ने लिंक मांग सकते हैं। वाट्सएफ नम्बर 94 2462 9494 से । या न्यूज के नीचे जाए और दिए गए वाट्सएफ जवाइन निर्देश बॉक्स में दो बार क्लिक कर ग्रुप में ज्वाइन हो सकते हैं। संतोष दुबे, सिवनी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *